उत्तराखंड

चंपावत सर्किल में कोविड की वैक्सीन खत्म होने के कारण 15 से 18 साल तक के बच्चों का टीकाकरण हुआ प्रभावित…

चंपावत सर्किल में कोविड की वैक्सीन खत्म होने के कारण 15 से 18 साल तक के बच्चों का टीकाकरण प्रभावित हो गया है। शुक्रवार को टीकाकरण के लिए विभिन्न स्कूलों में पहुंचे अधिकांश बच्चों को बिना टीका लगाए बैरंग लौटना पड़ा। सुबह एक घंटे तक कुछ स्कूलों में टीकाकरण हुआ, लेकिन वाइल खत्म होने के बाद टीकाकरण बंद करना पड़ा। वैक्सीनेशन प्रभारी डा. मनीष बिष्ट ने बताया कि शुक्रवार की सुबह तक कुछ सेशन साइट में टीके उपलब्ध थे जो लगा दिए गए। सुबह नौ बजे से टीकाकरण शुरू हुआ लेकिन एक से डेढ़ घंटे में ही उपलब्ध डोज खत्म हो गई। जीआइसी, जीजीआइसी, विवेकानंद विद्यामंदिर इंटर कॉलेज, यूनिवर्सल पब्लिक स्कूल में टीकाकरण के लिए आए अधिकांश बच्चों को बिना टीका लगाए घर लौटना पड़ा। एसीएमओ डा. इंद्रजीत पांडेय ने बताया कि जिले के कुछ स्कूलों में को-वैक्सीन की वाइल खत्म हो गई है। दूरस्त सेशन साइट के कोल्ड स्टोरों में अभी भी चार हजार डोज उपलब्ध हैं। लेकिन उन्हें लाने में देरी की संभावना को देखते हुए फिलहाल टीकाकरण के लिए पहुंचे बच्चों को घर भेज दिया गया है। अस्पताल के कोल्ड स्टोर में वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के कारण स्कूलों को वाइल नहीं दी जा सकी हैं। जल्दी ही डोज उपलब्ध कराकर टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इधर जीआइसी के प्रधानाचार्य मनोज जोशी ने बताया कि उनके स्कूल में 350 छात्र संख्या है। पिछले दो दिन में 131 बच्चों को टीका लग पाया है। गुरुवार को 101 और शुक्रवार को 30 बच्चों को टीका लगा। वाइल खत्म होने के कारण लाइन में खड़े बच्चों को घर भेजना पड़ा।