उत्तराखंड प्रदेश राजनीति

उत्तराखंड कांग्रेस ने पूर्व विधायक आर्य सहित पांच बागी नेताओं को छह साल के लिए किया निष्कासित

देहरादून, उत्तराखंड कांग्रेस ने पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव मैदान में डटे पूर्व विधायक भीमलाल आर्य समेत पांच नेताओं को छह साल के लिए निष्कासित किया है। पूर्व विधायक भीमलाल आर्य टिहरी जिले की सुरक्षित सीट घनसाली से कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं। पार्टी ने उन्हें पहले नामांकन वापसी के लिए मनाने की कोशिश की। इसके बाद पार्टी प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार के लिए उन्हें समझाया गया। अब पार्टी ने भीमलाल को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

बागेश्वर सीट से चुनाव मैदान में मौजूद बालकृष्ण और भैरवनाथ टम्टा के खिलाफ पार्टी ने निष्कासन का चाबुक चला दिया। लालकुआं सीट पर पार्टी प्रत्याशी एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं संध्या डालाकोटी के बाद पार्टी ने अब उनके पति किरन डालाकोटी को भी पार्टी से बाहर किया है।

हरिद्वार जिले में ज्वालापुर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे एसपी सिंह इंजीनियर को भी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह वर्ष के लिए निकाला गया है। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री संगठन मथुरादत्त जोशी ने बताया कि पार्टी में अनुशासनहीनता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पार्टी की अनुशासन रेखा को पार करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सभी जिला व शहर अध्यक्षों को भी चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त व्यक्तियों के खिलाफ समुचित कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा ने भी सात बागियों के खिलाफ की कार्रवाई

भारतीय जनता पार्टी ने प्रत्याशियों के खिलाफ ताल ठोक रहे सात बागियों को बाहर का रास्ता दिखाया। पवन कुमार चौहान (लालकुआं), अजय वर्मा (लक्सर), टेकबल्लभ व नितिन शर्मा (रुड़की), दर्शनलाल शाह (घनसाली), भुवन राणा (नानकमत्ता) और अजय तिवारी (किच्छा) शामिल हैं। पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने और भाजपा प्रत्याशियों के विरुद्ध चुनाव लड़ने पर यह कार्रवाई की गई है।