राष्ट्रीय

देश में कोरोना के मामलों में इतने फीसदी की कमी, पिछले 24 घंटों में 13166 केस दर्ज

देश में जानलेवा कोरोना वायरस महामारी के मामलों में आज सात फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 13 हजार 166 नए केस सामने आए हैं और 302 लोगों की मौत हो गई. कल 14 हजार 148 मामले दर्ज किए गए थे. यानी कल की तुलना में आज मामले घटे हैं. देश में पिछले दिन 26 हजार 988 लोग ठीक हुए हैं. जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है.

एक्टिव केस घटकर 1 लाख 34 हजार 235 हुए

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 1 लाख 34 हजार 235 हो गई है. वहीं, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 13 हजार 226 हो गई है. आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 4 करोड़ 22 लाख 46 हजार 884 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

दिल्ली में 556 नए मामले सामने आए, 6 लोगों की मौत

दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 556 नए मामले सामने आए हैं और छह लोगों की संक्रमण से मौत हो गयी है. राजधानी में संक्रमण दर 1.10 फीसदी है.  स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया है कि एक दिन पहले की गई जांच की संख्या 50,591 थी, जबकि एक दिन में 618 मरीजों को छुट्टी दे दी गयी. इसमें कहा गया है कि संक्रमितों और मरने वालों की नयी संख्या सामने आने के बाद यहां संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 18,58,154 हो गयी है, जबकि मरने वालों की संख्या 26,115 पर पहुंच गयी है.

राजधानी में बुधवार को संक्रमण दर 1.05 प्रतिशत थी जबकि तीन लोगों की मौत हुयी और कोविड के 583 नये मामले सामने आये थे. दिल्ली के अस्पतालों में 15,294 बिस्तर कोविड मरीजों के लिये है जिसमें से 226 पर मरीज हैं.

अबतक करीब 176 करोड़ खुराक दी गईं

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों (Corona Vaccine) की करीब 176 करोड़ से खुराक दी जा चुकी हैं. कल 34 लाख 4 हजार 426 डोज़ दी गईं, जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 176 करोड़ 86 लाख 89 हजार 225 डोज़ दी जा चुकी हैं. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ज्यादा आयु वाले अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को 1.97 करोड़ से ज्यादा (1,97,19,256) एहतियाती टीके लगाए गए हैं. देश में कोविड रोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ और पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया. वहीं, कोरोना योद्धाओं के लिए टीकाकरण अभियान दो फरवरी से शुरू हुआ था.