उत्तराखंड प्रदेश

उत्तराखंड में घटते कोरोना मामलों के बीच सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन, जानिए….

उत्तराखंड में मंगलवार से सभी वाटर पार्क और स्वीमिंग पूल पूरी क्षमता के साथ संचालित होंगे। सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों को भी पूर्व के सामान्य दिनों की तरह दफ्तर आना होगा। सरकार ने सोमवार को कोविड-19 की संशोधित गाइडलाइन जारी कर दी। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के अनुसार राजनीतिक दलों की रैलियों पर फिलहाल रोक रहेगी।

10 मार्च मतगणना के दिन तक यह प्रतिबंध जारी रहेगा। नई व्यवस्था अगले आदेश तक जारी रहेगी। बाकी संक्रमण की रोकथाम के लिए तय मास्क, सैनिटेशन आदि मानक यथावत लागू रहेंगे। आपको बता दें कि

उत्तराखंड में कोरोना के 61 नए मरीज मिले और तीन संक्रमितों की मौत हो गई। 120 मरीजों को इलाज के बाद होम आईसोलेशन व अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया जिससे एक्टिव मरीजों की संख्या 919 रह गई है। कोरोना की तीसरी लहर के बाद पहली बार राज्य में कोरोना संक्रमण की दर एक प्रतिशत से नीचे आ गई है।

स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार सोमवार को अल्मोड़ा में 12, बागेश्वर में एक, चम्पावत में छह, देहरादून में 21, हरिद्वार में दो, पौड़ी में पांच, पिथौरागढ़ में छह, टिहरी में दो, यूएस नगर में तीन और उत्तरकाशी जिले में भी तीन नए संक्रमित मिले हैं। सोमवार को देहरादून के श्रीमंहत इंद्रेश अस्पताल में दो जबकि हरिद्वार के विनय विशाल अस्पताल में एक संक्रमित की मौत हो गई।

इसके साथ ही राज्य में कोरोना की तीसरी लहर के दौरान मरने वालों की संख्या 265 पहुंच गई है। राज्य के विभिन्न अस्पतालों व लैबों से सोमवार को 6942 मरीजों की सैंपल रिपोर्ट आई जबकि सात हजार से अधिक मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण की दर 0.87 प्रतिशत तो मरीजों के ठीक होने की दर 95 प्रतिशत से अधिक हो गई है।

कोरोना के घटते केसों के साथ ही स्वास्थ्य विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए सभी से अपील की है कि सभी लोग कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन करें। सोमवार को राज्य में 11 हजार से अधिक लोगों को कोरोना रोधी टीके की डोज लगाई गई है।