राजनीति राष्ट्रीय

‘द कश्मीर फाइल्स ने दिखाया कश्मीरी पंडितों का सच, ऐसी फिल्में बनती रहनी चाहिए’: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी मंगलवार को एक बयान दिया है और इस बयान में कहा कि, ‘भाजपा वंशवाद की राजनीति के खिलाफ है और हाल में संपन्न विधानसभा चुनावों में उनके कारण पार्टी के कई सांसदों के बेटे-बेटियों को टिकट नहीं मिल सका।’ जी दरअसल प्रधानमंत्री ने यह बात भाजपा संसदीय दल की बैठक में कही। इस बैठक में चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में शानदार जीत दर्ज कर सत्ता में वापसी करने पर प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा का जोरदार अभिनंदन भी किया गया। कुछ समय पहले ही संपन्न हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा की सत्ता में फिर से वापसी की।

वहीं पीएम मोदी ने बैठक में सांसदों को संबोधित करते हुए हाल में रिलीज फिल्म ‘‘द कश्मीर फाइल्स” की सराहना की और इसी के साथ कहा कि, ‘ऐसी फिल्में बनती रहनी चाहिए।’ इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि, ‘1990 में कश्मीरी पंडितों के साथ क्या हुआ, उस सच को छुपाया गया लेकिन आज यह सबके सामने है। कश्मीरी पंडितों ने क्या दर्द सहा आज पूरी दुनिया देख रही है। पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया को सच का आइना दिखाने वाली ऐसी फिल्में बनती रहनी चाहिए।’

आगे उन्होंने सांसदों को संबोधित करते हुए कहा, ‘वंशवाद की राजनीति लोकतंत्र के लिए खतरनाक है, इसलिए पार्टी के सांसदों को वंशवाद की राजनीति के खिलाफ लड़ना होगा। ऐसी राजनीति पर अंकुश लगाने के लिए भाजपा ने अपने संगठन के भीतर ही एक कोशिश आरंभ की है। यदि विधानसभा चुनावों में किसी सांसद के बेटे या बेटी को टिकट नहीं मिला, तो यह उनकी ही वजह से है।’ वहीं बैठक में मौजूद भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने बताया कि, ‘मोदी ने सांसदों से कहा कि वे अपने संसदीय क्षेत्र के 100 ऐसे मतदान केंद्रों की पहचान करें, जहां भाजपा के पक्ष में अपेक्षाकृत कम मत पड़े हैं और वे इसके कारणों की भी पड़ताल करें।’