Main Slider अपराध राष्ट्रीय

Bihar Gaya में पंचायती राज विभाग के दफ्तर में कार्यरत एक महिला ने पदाधिकारी पर लगाए ये गंभीर इल्जाम

गया: बिहार के गया जिले (Bihar Gaya) में पंचायती राज विभाग के दफ्तर में कार्यरत एक महिला ने पंचायती राज पदाधिकारी पर गंभीर इल्जाम लगाए हैं. महिला का इल्जाम है कि अफसर उसे टाइट जींस एवं टी-शर्ट पहनकर दफ्तर आने को बोलते हैं. महिला के मुताबिक, अफसर ने धमकी देते हुए कहा कि ‘तुम्हें मालूम नहीं, तुम्हें नौकरी पर रखना तथा हटाना दोनों मेरे हाथ में है. इसलिए जैसा बोलता हूं, ठीक वैसा ही करो.’ पीड़ित महिला ने सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से मामले की शिकायत की है. खबर के मुताबिक, यह मामला गया कलेक्ट्रेट मौजूद पंचायती राज विभाग के दफ्तर का बताया जा रहा है. महिला की शिकायत के पश्चात् गया कलेक्टर ने तहकीकात के लिए टीम का गठन किया है. यहां पंचायती राज विभाग दफ्तर की एक महिला कर्मचारी ने अपने ही विभाग के पंचायती राज पदाधिकारी पर यौन उत्पीड़न का इल्जाम लगाया है. महिला के इल्जाम के बाद सीएम की तरफ से मगध प्रमंडल आयुक्त को तहकीकात का आदेश दिया गया है. तत्पश्चात, कलेक्टर ने एक जांच कमेटी का गठन किया है. वही इस तहकीकात में जिला प्रोग्राम अफसर तथा श्रम अधीक्षक के अतिरिक्त कुछ अन्य महिला कर्मियों को भी सम्मिलित किया गया. हालांकि अपराधी पंचायती राज पदाधिकारी का कहना है कि हमें इस मामले में फंसाया जा रहा है. अफसर का कहना है कि जिस महिला ने इल्जाम लगाया है, वो मेरे विभाग में नहीं है. मैं जांच टीम के सामने अपनी बात रखूंगा. वहीं इल्जाम लगाने वाली महिला ने छेड़छाड़ का इल्जाम लगाते हुए बोला कि राजीव कुमार अपने चेंबर में बुलाते हैं. कुर्सी पर बैठाकर छेड़छाड़ करते हैं. हाथ फेरते हैं. महिला का कहना है कि ‘अफसर अपने काले शीशे वाले चेंबर में बुलाकर बोलते हैं कि तुम्हें रख सकता हूं तथा हटाना भी चुटकी का खेल है. तुम मेरे लिए टाइट जींस एवं टीशर्ट पहन कर दफ्तर आओ.’ इस मामले में कलेक्टर डॉक्टर त्यागराजन एसएम ने तहकीकात के आदेश दिए हैं. जिला पदाधिकारी ने जांच टीम से 48 घंटे के अंदर रिपोर्ट मांगी है.