उत्तराखंड

आइआरसीटीसी ने देहरादून से अयोध्या वाराणसी प्रयागराज समेत विभिन्न तीर्थ स्थलों के भ्रमण के लिए अपना टूर पैकेज किया जारी

Tour Package : अगर आप अयोध्या दर्शन का मन बना रहे हैं तो यह आपके काम की खबर है। पैकेज की बुकिंग पहले आओ पहले पाओ आधार पर होगी।
16 से 20 जुलाई तक कर सकेंगे भ्रमण इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन लिमिटेड (आइआरसीटीसी) ने देहरादून से अयोध्या, वाराणसी, प्रयागराज समेत विभिन्न तीर्थ स्थलों के भ्रमण के लिए अपना टूर पैकेज जारी किया है। इच्छुक लोग बुकिंग करवाने के बाद 16 से 20 जुलाई तक भ्रमण कर सकेंगे। अयोध्‍या में इन तीर्थस्‍थलों का कराया जाएगा भ्रमण आइआरसीटीसी के देहरादून रेलवे स्टेशन अधिकारी अमित राणा ने बताया कि यात्रा का मुख्य आकर्षण अयोध्या में कनक भवन, हनुमानगढ़ी, राम जन्मभूमि और श्री काले राम मंदिर के दर्शन होंगे। वाराणसी में इन तीर्थस्‍थलों का कराया जाएगा भ्रमण इसके अलावा वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर, अन्नपूर्णा मंदिर, संकट मोचन मंदिर, काल भैरव मंदिर, ट्रेड फैसिलिटेशन एंड एग्जिबिशन सेंटर, सारनाथ में सारनाथ मंदिर, सारनाथ म्यूजियम, प्रयागराज में संगम, प्रयागराज किला, पातालपुरी मंदिर, बड़े हनुमान मंदिर का भ्रमण कराया जाएगा। दून से वाराणसी जाने और लखनऊ से दून आने की व्यवस्था फ्लाइट से बताया कि यात्रियों को देहरादून से वाराणसी जाने और लखनऊ से देहरादून आने की व्यवस्था फ्लाइट से की जाएगी। जबकि वाराणसी से सारनाथ, प्रयागराज, अयोध्या व लखनऊ जाने-आने की व्यवस्था एसी वाहनों में की जाएगी। रहने खाने की व्यवस्था तीन सितारा होटल में आइआरसीटीसी की ओर से की जाएगी। पहले आओ पहले पाओ आधार पर होगी बुकिंग बताया कि दो व्यक्तियों के एक साथ ठहरने पर पैकेज का मूल्य 27,700 रुपये प्रति व्यक्ति और तीन व्यक्तियों के एक साथ ठहरने पर पैकेज का मूल्य प्रति व्यक्ति 26,200 रुपये होगा। पैकेज की बुकिंग पहले आओ पहले पाओ आधार पर होगी। इन नंबरों पर संपर्क कर करवा सकते हैं बुकिंग इच्छुक व्यक्ति बुकिंग के लिए देहरादून स्थित आइआरसीटीसी कार्यालय, आइआरसीटीसी की वेबसाइट या 8595930962 व 8287930665 फोन नंबर पर संपर्क कर बुकिंग करवा सकते हैं।
उत्तराखंड

केदारनाथ धाम के लिए हेली सेवा के नाम पर लगातार बढ़ते जा रहे धोखाधड़ी के मामले, अब तक कुल 14 मुकदमे दर्ज

Kedarnath Yatra : केदारनाथ धाम के लिए हेली सेवा के नाम पर धोखाधड़ी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। ताजा मामले में देहरादून के एक टैक्सी चालक को ठग ने 48 हजार रुपये की चपत लगा दी। टैक्सी चालक ने कोलकाता (बंगाल) निवासी अपने परिचित के लिए किसी वेबसाइट से फाटा से केदारनाथ तक के लिए हेली सेवा के छह टिकट बुक करवाए थे।
आरोपित ने टैक्सी चालक को फर्जी टिकट दिए। इसकी जानकारी टैक्सी चालक को तब हुई, जब परिचित ने बताया कि टिकट में क्यूआर कोड नहीं है। इस मामले में पटेलनगर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार, शिकायतकर्ता देहरादून निवासी मुकुल कोरी ने बताया कि हेली टिकटों की बुकिंग के लिए उसने परिचित मनोज रावत से संपर्क किया। मनोज ने मुकुल से 48 हजार रुपये लिए और फाटा से केदारनाथ जाने के लिए छह व्यक्तियों का टिकट आनलाइन बुक करा दिया। टिकट बुक करने के लिए मनोज ने जिस वेबसाइट पर संपर्क किया, वहां उसकी बात यासीन नाम के व्यक्ति से हुई। वेबसाइट से प्राप्त टिकटों की प्रति 20 मई को मुकुल ने वाट्सएप के माध्यम से अपने परिचित को कोलकाता भेज दी। इसके बाद 28 मई को परिचित ने मुकुल को बताया कि टिकट फर्जी हैं, क्योंकि उन पर क्यूआर कोड नहीं है। इस बारे में जानकारी लेने के लिए उन्होंने यासीन को फोन किया तो उसका मोबाइल नंबर बंद मिला। दो मई से अब तक 14 मुकदमे चारधाम व हेमकुंड यात्रा के लिए आनलाइन रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में छेड़छाड़ के साथ हेली सेवा के नाम पर धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ऐसे मामलों में दो मई से अब तक कुल 14 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। इनमें टिहरी, चमोली व रुद्रप्रयाग में तीन-तीन और देहरादून में पांच मुकदमे दर्ज हैं। डीजीपी ने केदारनाथ में यात्रा व्यवस्थाओं का लिया जायजा पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने केदारनाथ धाम, सोनप्रयाग एवं गौरीकुंड में यात्रा एवं सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लेकर विभिन्न दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने तीर्थ पुरोहितों, व्यापारियों और तीर्थयात्रियों से भी भेंटकर उनकी समस्याएं सुनी। साथ ही यात्रा मार्ग पर बेहतर कार्य करने वाले पुलिसकर्मियों को सम्मानित भी किया गया। डीजीपी अशोक कुमार सोमवार सुबह केदारनाथ धाम पहुंचे। इस दौरान उन्होंने दर्शन के लिए कतार में लगे श्रद्धालुओं से बातचीत की। साथ ही मंदिर के बाहर एवं अंदर की सुरक्षा व्यवस्था और भीड़ नियंत्रण के लिए बनाए गए पुलिस प्रबंधन की भी जानकारी ली। डीजीपी ने स्थानीय पंडा समाज के प्रतिनिधियों एवं पुरोहितों से वार्ता की। इसके बाद डीजीपी अशोक कुमार धाम में तैनात पुलिस, पीएसी, एसडीआरएफ जवानों से मिलने पहुंचे। जवानों ने उन्होंने अपनी समस्याएं बताई। इस पर डीजीपी ने विषम परिस्थितियों में ड्यूटी कर रहे जवानों का हौसला बढ़ाते हुए उन्हें प्रशस्ति पत्र व नगद पुरस्कार से सम्मानित किया गया। पुलिस महानिदेशक ने सोनप्रयाग में भी पुलिस बल की बैठक ली। इसके बाद उन्होंने गौरीकुंड में सुरक्षा को लेकर बनाए गए बैरियर और घोड़ा पड़ाव का निरीक्षण कर आवागमन को नियंत्रित ढंग से संचालित करने के निर्देश दिए।
Main Slider राष्ट्रीय

दिल्ली में 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी-तूफान आने और भारी बारिश के वजह से दो लोगों की मौत… 

राजधानी दिल्ली में सोमवार शाम को 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी-तूफान आने और भारी बारिश के कारण दो लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। शहर में कई पेड़ उखड़ गए, सड़क और हवाई यातायात बाधित हुआ और ऐतिहासिक जामा मस्जिद समेत कई इमारतों तथा वाहनों को नुकसान पहुंचा है। पुलिस और दमकल विभाग के पास बचाव के सैकड़ों फोन आए, जबकि लोगों को लुटियंस दिल्ली, आईटीओ, कश्मीरी गेट, एमबी रोड और राजघाट समेत कई इलाकों में जलभराव और पेड़ उखड़ने के कारण भारी यातायात संबंधी जाम का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली में 2018 के बाद से पहली बार भीषण तूफान आया है। दिल्ली में शाम साढ़े पांच बजे 17.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई और आंधी-तूफान से तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई। सफदरजंग वेधशाला ने शाम पांच बजकर 40 मिनट पर 25 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया, जबकि दोपहर चार बजकर 20 मिनट पर 40 डिग्री से. तापमान था। मध्य दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके में पड़ोसी की बालकनी का एक हिस्से गिरने से 50 वर्षीय शख्स की मौत हो गई। यह हादसा तब हुआ जब वह अपने घर के बाहर खड़ा हुआ था। पुलिस उपायुक्त (मध्य) श्वेता चौहान ने बताया कि मृतक की पहचान कैलाश के रूप में की गई है और दरियागंज के संजीवन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई थी। उत्तरी दिल्ली के अंगूरी बाग में 65 वर्षीय बसीर बाबा नाम के बेघर व्यक्ति पर पीपल का एक पेड़ गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई। एक अन्य घटना में चांदनी चौक के कबूतर बाजार के समीप कार पर नीम का पेड़ गिरने के बाद उसमें एक साल के बच्चे समेत एक परिवार के तीन सदस्यों को बचाया गया। ऐतिहासिक जामा मस्जिद का गुंबद क्षतिग्रस्त हो गया। जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा कि मस्जिद की एक मीनार और अन्य हिस्सों से पत्थर टूटकर गिरने से दो लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि सोमवार को रात आठ बजे तक पेड़ गिरने के बारे में कम से कम 294 कॉल्स आए। दिल्ली दमकल पुलिस को मकान ढहने की आठ सूचनाएं मिली। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं। पालम मौसम स्टेशन में हवा की रफ्तार अधिकतम 70 किलोमीटर प्रति घंटा दर्ज की गई। पांच उड़ानों का मार्ग बदला राष्ट्रीय राजधानी में आंधी के कारण दिल्ली हवाईअड्डे पर कम से कम पांच उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया और 70 उड़ानों में विलंब हुआ। अधिकारियों ने बताया कि आंधी-तूफान के कारण दिल्ली से रवाना होने वाली कम से कम 40 और यहां आने वाली 30 उड़ानों में विलंब हुआ। यहां आने वाली कम से कम पांच उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया। एलजी ने किया प्रभावित स्थानों का दौरा दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने प्रभावित स्थानों में से कुछ का दौरा किया। उन्होंने ट्वीट किया कि शाम को तूफान के बाद पेड़ उखड़ने और जलभराव को देखकर व्यथित हूं…अधिकारियों को मलबा हटाने और तत्काल सड़कों की सफाई कराने के लिए कदम उठाने का निर्देश दिया है ताकि लोगों को हो रही असुविधा को दूर किया जा सके। सोशल मीडिया पर पोस्ट वीडियो में तेज हवाओं के कारण कारों को हिलते हुए देखा जा सकता है। बारिश के बाद पेड़ उखड़ने के वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित हुए। कई स्थानों पर तेज हवाओं के कारण पेड़ गिरने से वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। भाजपा सांसद की कार भी क्षतिग्रस्त एनडीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शाम सवा सात बजे तक पेड़ गिरने और शाखाएं टूटने के बारे में कुल 101 शिकायतें मिली। जिन इलाकों में ऐसी घटनाओं की खबर मिली है वहां रास्ता साफ करने का काम चल रहा है। भगवान दास रोड, कनॉट प्लेस, एसपी मार्ग समेत कई इलाकों को पहले ही साफ कर दिया गया है। पश्चिमी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा की कार भी क्षतिग्रस्त हो गई। विंडसर प्लेस में उनके आधिकारिक आवास पर खड़ी कार पर पेड़ गिर गया। कई राष्ट्रध्वज क्षतिग्रस्त, एक इमारत में लगा एसी गिरा एक कार पर धातु का एक टुकड़ा गिरने से वह क्षतिग्रस्त हो गई। कनॉट प्लेस में पेड़ उखड़ने से एक अन्य कार के फंसने का वीडियो भी सोशल मीडिया में आया है। अधिकारियों ने बताया कि जामिया मिलिया इस्लामिया के भीतर भी कई पेड़ उखड़ गए हैं और इमारत की दीवारें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। भारी बारिश और तेज हवाओं से विभिन्न स्थानों पर दिल्ली सरकार द्वारा लगाए राष्ट्रध्वज भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। हवा इतनी तेज थी कि संसद मार्ग पर एक इमारत में लगा एयर कंडीशनर गिर गया, जिससे कारों और ऑटो रिक्शा को नुकसान पहुंचा है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट किया कि रेलवे अंडरपास पुल प्रह्लादपुर में जल भराव के कारण एमबी रोड पर यातायात बाधित हुआ है। कृपया इस मार्ग पर यात्रा करने से बचें।
Main Slider राष्ट्रीय

पीएम मोदी की अपील के बाद, सरकारी और गैर-सरकारी एजेंसियों ने केदारनाथ धाम के पास स्वच्छता अभियान का किया आयोजन

तीर्थ स्थलों पर लोगों से स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी की अपील के बाद, तीर्थयात्रियों, सरकारी और गैर-सरकारी एजेंसियों ने मंगलवार को केदारनाथ धाम के पास एक स्वच्छता अभियान का आयोजन किया। उत्तराखंड में चार-धाम यात्रा के दौरान कुछ तीर्थयात्रियों द्वारा फैलाई गई गंदगी का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को लोगों से तीर्थ स्थलों की गरिमा बनाए रखने की अपील की थी।
रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने कहा कि प्रशासन कचरा प्रबंधन की स्थिति पर लगातार नजर रख रखा है। नतीजतन केदारनाथ और आसपास के इलाकों में फैला कचरा अब साफ हो रहा है। मंगलवार की सुबह जिले के पर्यावरण संरक्षण पर काम करने वाली संस्था सुलभ इंटरनेशनल के प्रशासन और कर्मचारियों ने केदारनाथ क्षेत्र से टन कचरा एकत्र किया। पर्यटकों ने गौरीकुंड, सोनप्रयाग और केदारनाथ के रास्ते में स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया। भौगोलिक रूप से, सोनप्रयाग केदारनाथ के रास्ते में रुद्रप्रयाग और गौरीकुंड के बीच स्थित है। एएनआई से बात करते हुए, गढ़वाल विश्वविद्यालय के पर्यटन विभाग के एक अधिकारी डॉ सर्वेश उनियाल ने कहा, ‘इन दिनों, हम तीर्थ स्थलों पर पर्यटकों की भारी आमद देख रहे हैं। इसके बाद, पर्यावरण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा प्रभावित होता है। लोग कूड़े फेंक देते हैं प्लास्टिक को लापरवाही से इधर-उधर फेंकते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘यह जानकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को लोगों से तीर्थ स्थलों की गरिमा बनाए रखने की अपील की। ​​मुझे लगता है कि हम सभी को पर्यावरण की रक्षा के लिए जिम्मेदारी से काम करना होगा। तीर्थ यात्रा भी तीर्थ सेवा होनी चाहिए।’ जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने भी लोगों से राज्य में स्वच्छता बनाए रखने का आग्रह किया। मन की बात में पीएम मोदी की थी सफाई की अपील  दीक्षित ने कहा- प्रधानमंत्री ने अपने मासिक रेडियो संबोधन ‘मन की बात’ में कहा कि राज्य में चार धाम यात्रा के लिए आने वाले हजारों श्रद्धालु केदारनाथ में कुछ तीर्थयात्रियों द्वारा गंदगी फैलाते हुए देखते हैं। इस संबंध में मैंने संबंधित अधिकारियों को आदेश दिया है। तीर्थ स्थलों पर उचित अपशिष्ट प्रबंधन सुनिश्चित करने के लिए।’ दीक्षित ने बताया कि गौरीकुंड, सोनप्रयाग और केदारनाथ क्षेत्रों में भी सफाई अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें भारी मात्रा में कचरा एकत्र किया गया है। उन्होंने कहा, ‘हम अब से नियमित रूप से तीर्थ स्थलों पर स्वच्छता अभियान चलाएंगे।’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की लोगों से अपील  प्रधान मंत्री ने अपने संबोधन में अपील की थी कि ‘हम जहां भी जाएं, इन तीर्थ स्थलों की गरिमा बनाए रखें।’ ‘हमें कभी भी शुद्धता, स्वच्छता और पर्यावरण की उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। इनके लिए यह जरूरी है कि हम स्वच्छता के मानदंडों का पालन करें। कुछ ही दिनों में दुनिया 5 जून को पर्यावरण दिवस मनाएगी। हमें स्वच्छ पर्यावरण अभियान चलाना चाहिए और यह है एक कभी न खत्म होने वाला कार्य होने चाहिए। इस बार, आपको दूसरों से जुड़ना चाहिए – आपको स्वच्छता और वृक्षारोपण के लिए कुछ प्रयास करना चाहिए। स्वयं एक पेड़ लगाएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।’
Main Slider राष्ट्रीय

Karnataka के हासन जिले में अरासिकेरे तालुक में उपद्रवियों द्वारा मंदिर में मूर्तियों को तोड़े जाने के बाद तनाव का माहौल…

कर्नाटक (Karnataka) के हासन जिले में अरासिकेरे तालुक में उपद्रवियों द्वारा मंगलवार को एक मंदिर में मूर्तियों को तोड़े जाने के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। यह घटना मालेकल्लू तिरुपति हिल के प्रदर्शनी केंद्र में हुई। 300 साल पुराने इस पवित्र स्थान को चिक्का (मिनी) तिरुपति के नाम से जाना जाता है। मंदिर एक पहाड़ी के ऊपर अरसीकेरे शहर से दो किलोमीटर दूर स्थित है। पुलिस के अनुसार,  कम से कम चार बदमाशों ने मूर्तियों को तोड़ दिया, जो स्थापना के लिए तैयार थीं।
यह खबर अपडेट हो रही है…