राष्ट्रीय

डेंगू के रोकथाम के लिए केजरीवाल का एक्शन प्लान, जाने क्या

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को डेंगू की रोकथाम को लेकर सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, बारिश का मौसम लंबा चल गया। आने वाले दिनों में डेंगू का खतरा बढ़ सकता है। आने वाले दिनों में कई कदम उठाएंगे। खासकर स्कूली बच्चों को डेंगू की रोकथाम में बड़े स्तर पर शामिल करेंगे। मुख्यमंत्री ने शनिवार को अपने आवास पर डेंगू की रोकथाम को लेकर अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक में स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम, एनडीएमसी और अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ डेंगू की रोकथाम को लेकर विस्तृत योजना तैयार की। केजरीवाल ने सभी संबंधित विभागों को आपस में सामंजस्य स्थापित कर काम करने का निर्देश दिया है। बैठक में सभी स्कूलों के बच्चों को जागरूकता अभियान में शामिल करने का फैसला किया गया। बच्चों को अपने घर में यह देखने के लिए प्रेरित किया जाएगा कि कहीं भी पानी तो जमा नहीं जो रहा है। अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने ऑफिस में प्रतिदिन जांच करेंग। ऐसे स्थानों की जांच कर वहां साफ सफाई कराने के निर्देश दिए गए हैं। निर्माण स्थलों का दौरा करेंगे अधिकारी  डीएम, एसडीएम और तहसीलदार समेत अन्य अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र का दौरा करेंगे। बैठक में केजरीवाल ने अधिकारियों को डेंगू की रोकथाम को लेकर उठाए जा रहे कदमों का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया है। हर शनिवार को अधिकारी निर्माण साइट, अस्पताल समेत जहां पर जल जमाव की अधिक संभावना है, वहां पर दौरा करेंगे और संबंधित द्वारा दिशा निर्देशों का पालन नहीं किए जाने पर आवश्यक कार्रवाई भी करेंगे। बैठक के मुख्य बिंदु – उपचार के लिए राजधानी के 35 अस्पताल चिह्नित किए गए हैं। – विभागों द्वारा केस-आधारित निगरानी और त्वरित प्रतिक्रिया किया जा रहा है। – विभागों द्वारा वेक्टर प्रबंधन किया जा रहा है, जिसमें लार्वा सोर्स मैनेजमेंट और फॉगिंग की जा रही है। – विभिन्न संगठनों द्वारा सभी स्तरों पर निगरानी, पर्यवेक्षण और मूल्यांकन किया जा रहा है। इस साल 400 मरीज मिले राजधानी में इस साल 17 सितंबर तक मच्छर जनित बीमारी से पीड़ित लोगों की संख्या लगभग 400 हो गई है।