राष्ट्रीय

इन राज्यों में बारिश होने के असार, कई ने जारी किया येलो अलर्ट, पढ़े पूरी ख़बर

अक्टूबर माह शुरू हो गया है, लेकिन देश के कई राज्यों में मानसून अभी भी सक्रिय है। दरअसल सुपर चक्रवात नोरु के चलते बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने साइक्लोन सर्कुलेशन के कारण देश से दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी में देरी होना तय है। इससे मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में 5 अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबित आज यानी 2 अक्टूबर को बिहार, झारखंड ओडिशा सहित 17 राज्यों में बारिश की संभावना है। IMD ने इन राज्यों में येलो अलर्ट जारी किया है।

इन राज्यों में आज येलो अलर्ट, तेज बारिश के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक, बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, गोवा व महाराष्ट्र के कुछ हिस्से, वहीं दक्षिण भारत के तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक में आज गरज- चमक और तेज हवा के साथ हल्की मध्यम बारिश हो सकती है। कुछ राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

क्यों हो रही है मानसून में देरी?

मानसून के अक्टूबर माह की शुरुआत में भी सक्रिय रहने के पीछे मौसमी वजह है। मौसम विभाग के अनुसार सुपर चक्रवात ‘नोरु‘ के चलते बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती परिसंचरण के कारण देश से दक्षिण.पश्चिम मानसून की वापसी में देरी होना तय है। मानसून में देरी के कारण यह अभी और सक्रिय रहेगा। इस वजह से मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में पांच अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है।

13 अक्टूबर के बाद होगी मानसून की वापसी

मौसम विभाग के महानिदेशक ने कहा कि मानसून की वापसी 20 सितंबर से शुरू हो जाती है, लेकिन उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के ऊपर मौजूद मौसमी प्रणाली के कारण यह इस बार 13 अक्टूबर तक रुकेगा। यानी मानसून की वापसी 13 अक्टूबर के बाद होगी। उन्होंने आगे कहा कि मध्य प्रदेश,उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में 5 अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है।