Main Slider कारोबार राष्ट्रीय

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने की प्रधानमंत्री फ्री सिलाई मशीन योजना की शुरुआत,  जानिए कैसे करे अप्लाई

देश की महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) कई तरह की योजनाएं (Schemes) चला रही है। जी हाँ और सरकार की यह पूरी कोशिश है कि देश की महिलाएं आर्थिक रूप मजबूत और स्वतंत्र बनें। जी दरअसल महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री फ्री सिलाई मशीन योजना (Silai Machine Yojana 2022)  की शुरुआत की है। जी हाँ और इस स्कीम के तहत देश की महिलाओं को सरकार की तरफ से मुफ्त में सिलाई मशीन (Free Silai Machine) दी जा रही है। आप सभी को बता दें कि इस स्कीम का लाभ लेने के लिए महिलाओं को बस एक आवेदन (Apply for Silai Machine Yojana) करने की जरूरत है। आइए जानते हैं इसके बारे में। कितनी महिलाओं के लिए है स्कीम- केंद्र सरकार की ये योजना हर एक राज्य की 50 हजार महिलाओं के लिए तैयार की गई है। जी हाँ और PM फ्री सिलाई मशीन योजना 2022 के तहत बिना किसी खर्च के महिलाओं को सिलाई मशीन मिलेगी। करीब  20 से 40 साल की उम्र की महिलाएं इस स्कीम के लिए आवेदन (Silai Machine Yojana Registration) कर सकती हैं। कैसे करें ऑनलाइन आवेदन- गांव और शहर दोनों जगह की महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा। हालाँकि इसके लिए आप ऑनलाइन भी आवदेन (Online Registration) कर सकते हैं। अप्लाई करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट www।india।gov।in पर जाएं। उसके बाद होम पेज पर आपको सिलाई की फ्री सप्लाई के लिए आवेदन करने के लिए लिंक मिलेगा। अब लिंक पर क्लिक कर आवेदन पत्र (Application Letter) के पीडीएफ का प्रिंट निकलें और फिर फॉर्म को भर दें। इसी के साथ ही जरूरी डॉक्यूमेंट्स को अटैच कर दें और इसके बाद फॉर्म को संबंधित ऑफिस में जमा कर दें। अब आपके आवदेन पत्र की जांच अधिकारियों द्वारा की जाएगी। अगर फॉर्म में भरी हुई सभी जानकारी सही पाई जाती है, तो आपको मुफ्त में सिलाई मशीन दे दी जाएगी। मुफ्त में सिलाई मशीन पाने के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स- आधार कार्ड जन्म तिथि प्रमाण पत्र आय प्रमाण पत्र मोबाइल नंबर पासपोर्ट साइज फोटो कौन है इस स्कीम का पात्र-  * आवेदकों को भारत का नागरिक होना चाहिए * उम्मीदवार की आयु 20 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए * आर्थिक रूप से कमजोर महिलाएं होनी चाहिए। * महिला आवेदक के पति की सालाना आय 12 हजार रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। * विधवाएं और दिव्यांग महिलाएं भी आवेदन कर सकती हैं। * यह स्किम हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों चल रही है।
उत्तराखंड कारोबार

शादी के इस सीजन में सोना-चांदी के दामों में आई काफी गिरावट, जाने क्या है आज के रेट

आपके घर में भी शादी या कोई खास अवसर आने वाला है और सोने की खरीदारी करना चाहते हैं तो खबर आपके लिए राहत भरी है। शादी के इस सीजन में सोना और चांदी के दाम में काफी गिरावट आई है।
तकरीबन दो हजार रुपये तक सस्ता हुआ सोना सीजन में तकरीबन दो हजार रुपये तक सोना सस्ता हुआ। वहीं, चांदी भी आठ हजार रुपये तक लुढ़का है। कई ग्राहक इस मौके का लाभ पाने के लिए ज्वेलर्स के पास एडवांस बुकिंग करने पहुंच रहे हैं। 22 कैरेट सोना 47990 रुपये प्रति दस ग्राम सराफा मंडल देहरादून के भाव की बात करें तो बीती 19 अप्रैल को जहां 22 कैरेट सोना 50100 रुपये प्रति दस ग्राम था जो बीते सप्ताह 2110 रुपये की गिरावट के साथ 47990 पर आ गया। चांदी महीने में आठ हजार 200 रुपये हुई सस्ती इसी तरह 24 कैरेट 54800 रुपये प्रति 10 ग्राम से 2300 रुपये घटकर 52500 रुपये तक रहा। इसके अलावा चांदी महीने में आठ हजार 200 रुपये सस्ती हुई है। पहले यह दाम 72700 रुपये प्रतिकिलो था जो अब 64500 है। दाम कम होने से बुकिंग के लिए पहुंच रहे ग्राहकों की भीड़ से ज्वेलर्स के चेहरे एक बार फिर खिल उठे हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में आई मंदी सराफा मंडल देहरादून के अध्यक्ष सुनील मेसोन का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में मंदी आने की वजह से सोना और चांदी के दाम में गिरावट आई है। इन दिनों शादियों का सीजन है। जिनके परिवार में एक दो महीने में शादी है, उनकी एडवांस बुकिंग बढ़ गई है। ग्राहक नए डिजाइन और हल्की ज्वेलरी की मांग कर रहे हैं। युवा सराफा मंडल देहरादून के सचिव गौरव रस्तोगी का कहना है कि सोने के दाम कम होने से मांग बढ़ी है। सामान्य दिनों में जहां दो से तीन लोग ही एडवांस बुकिंग के लिए आते थे, अब दाम घटने पर आठ से दस लोग यहां पहुंच रहे हैं।
Main Slider कारोबार राष्ट्रीय

घरेलू रसोई गैस सिलिंडर के दाम में एक बार फिर हुआ इजाफा, यह होगी नई कीमत

मई में एक बार फिर महंगाई का झटका आम लोगों को लगा है। पेट्रोल डीजल और सीएनजी के दाम में तो लगातार इजाफा हो ही रहा था लेकिन अब एलपीजी गैस के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। आज तेल कंपनियों ने घरेलू रसोई गैस सिलिंडर का दाम 50 रूपये और महंगा कर दिए हैं। आम लोगों की जेब पर अब एक बार फिर महंगाई का बोझ बढ़ जाएगा। वहीं कंपनियों ने कमर्शियल रसोई गैस सिलेंडर के दाम भी इसी महीने बढ़ाए हैं। यह होगी नई कीमत सिलेंडर के दाम में इजाफे के साथ अब 14.2 किलो के घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 999.50 रुपये प्रति सिलेंडर होगी। आज 50 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। यह बढ़ोतरी उस समय हुई है जब देश में पेट्रोल-डीजल और सीएनजी की महंगाई से लोग पहले ही परेशान थे। इसी महीने बढ़े हैं कमर्शियल सिलेंडर के दाम बता दें कि इसी महीने की पहली तारीख 1 मई को 19 किलो के कमर्शियल रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 102.50 रुपये बढ़कर 2355.50 रुपये कर दी गई थी। इससे पहले इसकी कीमत 2253 रुपये थी। साथ ही 5 किलो के एलपीजी कमर्शियल सिलेंडर की कीमत को भी कंपनियों ने बढ़ाकर 655 रुपये कर दी है।
Main Slider कारोबार राष्ट्रीय

OMC ने की वाणिज्यिक रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 102 रुपये की बढ़ोतरी….

तेल विपणन कंपनियों (OMC) ने 19 किलो के वाणिज्यिक रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में तत्काल प्रभाव से लगभग 102 रुपये की बढ़ोतरी की है। इसके साथ ही, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 19 किलो के वाणिज्यिक सिलेंडर की कीमत अब 2355.50 रुपये हो गई है, जो पहले 2253 रुपये प्रति सिलेंडर थी।
कारोबार राष्ट्रीय

देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर पीएम मोदी का बयान, राज्य सरकारों से की वैट कम करने की अपील

देश में पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Price Hike) की बढ़ती कीमतों को लेकर पीएम मोदी का बयान सामने आया है। बुधवार को कोरोना की स्थिति को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक के दौरान पीएम ने ईंधन की बढ़ती कीमतों का जिक्र किया। मोदी ने कहा कि पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत का बोझ कम करने के लिए केंद्र सरकार ने एक्साइज ड्यूटी में पिछले साल नवंबर में कमी की थी। राज्यों से भी आग्रह किया गया था कि वो अपने यहां टैक्स कम करें। कुछ राज्यों ने तो अपने यहां टैक्स कम कर दिया, लेकिन कुछ राज्यों ने अपने लोगों को इसका लाभ नहीं दिया।

PM Modi ने इन राज्यों से वैट कम करने की अपील

मोदी ने राज्य सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल, झारखंड, तमिलनाडु ने किसी न किसी कारण से केंद्र सरकार की बातों को नहीं माना और उन राज्य के नागरिकों पर बोझ पड़ता रहा। मेरी प्रार्थना है कि नंवबर में जो करना था, अब वैट कम करके आप नागरिकों को इसका लाभ पहुंचाएं। पीएम ने आगे कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध की परिस्थिति पैदा हुई है, जिससे सप्लाई चैन प्रभावित हुई है, ऐसे माहौल में दिनों-दिन चुनौतियां बढ़ती जा रही हैं। ये वैश्विक संकट अनेक चुनौतियां लेकर आ रहा है। ऐसे में केंद्र और राज्य के बीच तालमेल को और बढ़ाना अनिवार्य हो गया है। आज की वैश्विक परिस्थितियों में भारत की अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए आर्थिक निर्णयों में केंद्र और राज्य सरकारों का तालमेल, सामंजस्य पहले से अधिक आवश्यक है। कांग्रेस का पलटवार पीएम मोदी द्वारा राज्यों से पेट्रोल-डीजल से वैट की दर किए जाने की अपील को लेकर कांग्रेस ने पलटवार किया है। कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा कि उन्होंने पेट्रोल और डीजल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क से 26 लाख करोड़ रुपये कमाए। क्या उन्होंने इसे साझा किया है? आपने राज्यों को जीएसटी का हिस्सा समय पर नहीं दिया और फिर आप राज्यों से वैट को और कम करने के लिए कहते हैं। उन्हें केंद्रीय उत्पाद शुल्क कम करना चाहिए और फिर दूसरों से वैट कम करने के लिए कहना चाहिए। बीते कुछ दिनों से नहीं बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम बता दें कि बीते कुछ दिनों से देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा नहीं हुआ है। फिलहाल दिल्ली में पेट्रोल 105.41 रुपये प्रति लीटर है, जबकि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में 120.51 रुपये लीटर बिक रहा है। दिल्ली में डीजल का रेट 96.67 रुपये प्रति लीटर है। वहीं, दिल्ली से सटे गाजियाबाद में पेट्रोल की कीमत 105.18 रुपये प्रति लीटर है जबकि डीजल की कीमत 96.75 रुपये प्रति लीटर है।
कारोबार राष्ट्रीय

बढ़ती महंगाई के बीच इस जगह पेट्रोल 12 और डीजल 10 रुपये हुआ महंगा

नई द‍िल्‍ली : पड़ोसी मुल्‍क पाक‍िस्‍तान में महंगाई द‍िन पर द‍िन नए र‍िकॉर्ड बना रही है. कर्ज के बोझ तले दबी पाक‍िस्‍तान (Pakistan) की जनता को महंगाई का एक और झटका लगा है. पाक सरकार ने अब पेट्रोल‍ियम प्रोडक्‍ट (Petroleum Products) के रेट 10 से 12 रुपये प्रति लीटर तक बढ़ा दिए हैं.

हाई स्पीड डीजल के रेट भी बढ़े

पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी नोटिफिकेशन में पेट्रोल की कीमत में 12.03 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी का ऐलान क‍िया गया है. इसके अलावा हाई स्पीड डीजल (High Speed Diesel) के भाव में 9.53 रुपये प्रति लीटर का इजाफा क‍िया गया है.

160 रुपये लीटर हुआ पेट्रोल

पाक‍िस्‍तान में लाइट डीजल के रेट में 9.43 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है. मिट्टी का तेल भी 10.08 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है. पेट्रोल-डीजल के रेट में इजाफे के बाद पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत 147.82 रुपये से बढ़कर 159.86 रुपये प्रति लीटर हो गई है.

मिट्टी का तेल 125 के पार

इसी तरह हाई स्पीड डीजल की कीमत 144.62 रुपये से बढ़कर 154.15 रुपये प्रति लीटर हो गई है. लाइट डीजल ऑयल (Light Diesel Oil) के रेट 114.54 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 123.97 रुपये हो गए हैं. मिट्टी के तेल की कीमत 116.48 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 126.56 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं.

16 फरवरी की आधी रात से रेट लागू

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान में पेट्रोलियम उत्‍पादों की कीमत में बढ़ोतरी के बाद यहां पेट्रोल-डीजल के रेट र‍िकॉर्ड ऊंचााई पर पहुंच गए हैं. पाकिस्तान में पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स के ताजा रेट 16 फरवरी आधी रात से 28 फरवरी 2022 तक लागू रहेंगे.