उत्तराखंड प्रदेश

महात्मा गांधी की 153वीं जयंती पर, पुष्कर सिंह धामी ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी

महात्मा गांधी की 153वीं जयंती पर उत्‍तराखंड ने बापू को याद किया और श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने कहा कि हमें अपने आचरण में अहिंसा का भाव जागृत करने के साथ ही मानवता के प्रति करुणा का भाव पैदा करना होगा।

महात्मा गांधी की 153वीं जयंती पर उत्‍तराखंड ने बापू को याद किया और श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जन्म जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान प्रदेश में कई कार्यक्रम आयोजित किए गए।

वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी पार्क देहरादून में उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांधी जी ने सत्य एवं अहिंसा के मार्ग पर चलने के लिए सबको प्रेरित किया। भारत को आजादी दिलाने के लिए उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें अपने आचरण में अहिंसा का भाव जागृत करने के साथ ही मानवता के प्रति करुणा का भाव पैदा करना होगा। यही हमारी उनके प्रति सच्ची श्रद्वांजलि होगी। इस अवसर पर सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक खजानदास एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट भी उपस्थित थे।

इसके बाद मुख्यमंत्री धामी ने शहीद स्थल कचहरी में उत्‍तराखंड राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्‍तराखंड राज्य आन्दोलनकारियों के संघर्ष के परिणाम स्वरूप ही हमें नया राज्य मिला। शहीद राज्य आन्दोलनकारियों के सपने के अनुरूप राज्य के विकास के लिए राज्य सरकार प्रयासरत है।

2025 तक उत्‍तराखंड को हर क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य बनाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिए सभी को एकजुट होकर कार्य करना है, जिससे कि राज्य आन्दोलन के शहीदों के सपनों के अनुरूप प्रदेश का समग्र विकास किया जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राज्य आन्दोलनकारियों के कल्याण के लिए वचनबद्ध है।

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने श्रद्धा सुमन अर्पित किए

सचिवालय में अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर उन्होंने स्वच्छता कर्मियों को भी सम्मानित किया।विधानसभा भवन देहरादून में विधानसभा अध्यक्ष ऋतु भूषण खंडूरी ने दोनों महान विभूतियों के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष सहित सभी कार्मिकों द्वारा रामधुन भी गायी गई।

News Street Live
उत्तराखंड प्रदेश

चारधाम यात्रा में टूटा श्रद्धालुओं के दर्शन करने का रिकॉर्ड: CM धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया इस साल-2022 में चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का रिकॉर्ड टूटा है। बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चारों धामों में अब तक 38 लाख से ज्यादा तीर्थ यात्री दर्शन कर चुके हैं। चारधाम यात्रा को सुगम बनाने के लिए उत्तराखंड सरकार तत्परता से कार्य कर रही है।

बताया कि संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल भी तैनात किया गया है, ताकि खराब मौसम में भूस्खलन की वजह से बंद सड़कों को प्राथमिकता से खोला जा सके। सीएम धामी ने कहा कि चारधाम यात्रा करने के लिए पंजीकरण व्यवस्था को अनिवार्य तौर से लागू किया गया है।

सीएम धामी ने कहा चारधाम के कपाट बंद होने से पहले उत्तराखंड यात्रा पर एक नया कीर्तिमान बनाएगा। यात्रा रूट पर श्रद्धालुओं को हर संभव बेहतर सुविधा दी जा रही है। केदारनाथ धामी की तर्ज पर ही बदरीनाथ धाम का भी पुनर्निर्माण किया जा रहा है, जिसके बाद भारी संख्या में तीर्थ यात्री रात्रि प्रवास कर सकेंगे।

इस धाम में पहुंचे सर्वाधिक तीर्थ यात्री 
8 मई से शुरू हुई बदरीनाथ धाम की यात्रा में 1409395 और 6 मई से शुरू केदारनाथ धाम में 1291749 तीर्थ यात्री दर्शन कर चुक हैं। 3 मई से शुरू हुई गंगोत्री धाम में 570011 और यमुनोत्री धाम में 450204 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं। 29 सितंबर  शाम तक उत्तराखंड चारधाम पहुंचे संपूर्ण तीर्थयात्रियों की संख्या 3721359 तक पहुंच गई थी। हेमकुंड साहिबपहुंचे तीर्थयात्रियों की संख्या कपाट खुलने की तिथि 22 मई से अब अब तक 216715 तक पहुंच गई है। चारधाम यात्रा मार्ग सुचारू हैं। लेकिन कई स्थानों पर आंशिक भूस्खलन जोन में यातायात प्रभावित ‌।

मानूसनी सीजन में चारधाम यात्रा पर लगी थी ब्रेक
केदारनाथ-बदरीनाथ सहित चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में थोड़ी कमी दर्ज की थी। मानसूनी सीजन में  बरसात की वजह से संख्या में कमी दर्ज की थी। बारिश को लेकर अलर्ट पर भी यात्रा पर असर देखने को मिला था, लेकिन मौसम साफ होते ही चारधाम यात्रा ने एक बार फिर तेजी देखने को मिली। ऋषिकेश स्थित पंजीकरण केंद्र में रजिस्ट्रेशन कराने वालों की भारी संख्या देखी जा रही है।

गंगोत्री हाईवे बंदरकोट में छह घंटे बंद रहा
गंगोत्री हाईवे पर सुबह बंदरकोट के समीप भूस्खलन से आवाजाही करीब छह घंटे तक ठप रही। इस कारण यात्रियों को भारी दिक्कतों सामना करना पड़ा। यात्री मार्ग के दोनों ओर जाम में फंसे रहे। गंगोत्री हाईवे पर बंदरकोट के समीप बिना बारिश के भी चट्टान दरकने का सिलसिला रूक नहीं रहा है।

Main Slider राष्ट्रीय

पीएम मोदी ने तुलसी तांती के निधन पर शोक जताते हुए कही ये बड़ी बात…

एनर्जी सेक्टर की दिग्गज कंपनी सुजलॉन एनर्जी के फाउंडर तुलसी तांती का कार्डियक अरेस्ट की वजह से निधन हो गया। बता दें कि तुलसी तांती की उम्र 64 साल थी। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तुलसी तांती के निधन पर शोक व्यक्त किया।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, “तुलसी तांती एक अग्रणी व्यापारिक नेता थे जिन्होंने भारत की आर्थिक प्रगति में योगदान दिया और सतत विकास को आगे बढ़ाने के लिए हमारे देश के प्रयासों को मजबूत किया। उनके असमय निधन से आहत हूं। उनके परिवार और मित्रों के लिए संवेदनाएं। ओम शांति

कौन थे तुलसी तांती

तुलसी तांती एनर्जी सेक्टर की दिग्गज कंपनी सुजलॉन एनर्जी के फाउंडर थे। सुजलॉन एनर्जी की स्थापना 1995 में की गई थी और इसी के साथ तुलसी ने देश में विंड एनर्जी सेक्टर की अगुवाई की थी। तुलसी ने वैश्विक चुनौतियों के बीच वर्चस्व बनाने की कोशिश कायम की थी। पिछले महीने सुजलॉन एनर्जी के निदेशक मंडल ने राइट्स इश्यू के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। इससे शेयरों को खरीदने का अधिकार मौजूदा शेयरधारकों को ही होगा।

12,000 करोड़ का राइट्स इश्यू जल्द आएगा

हाल ही में तुलसी तांती ने अहमदाबाद में सुजलॉन एनर्जी के 12,000 करोड़ रुपये के राइट्स इश्यू की घोषणा की थी। एनर्जी कंपनी का राइट्स इश्यू 11 अक्टूबर को खुलने वाला है। सुजलॉन एनर्जी कंपनी के बयान के अनुसार, पांच रुपये प्रति शेयर की कीमत पर 2.40 करोड़ तक आंशिक चुकता इक्विटी शेयर जारी करेगी।

Main Slider राष्ट्रीय

कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने मेरे नामांकन का किया समर्थन: मल्लिकार्जुन खड़गे

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए मेरे नामांकन का समर्थन किया है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधा है।

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने कहा कि अगर आप दुनिया में शांति स्थापित करना चाहते हैं तो पहले आपको मजबूत होना पड़ेगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व पीएम लाल बहादुर शास्त्री की जयंति पर श्रद्धांजलि अर्पित की

Main Slider राष्ट्रीय

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में पुलिस जवान शहीद

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में एक पुलिस जवान शहीद हो गया। वहीं हमले में एक अन्य सीआरपीएफ जवान घायल हो गया है। हमला पुलवामा के पिंगलाना में हुआ है। यहां पर आतंकियों ने सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्त पार्टी पर आतंकियों ने फायरिंग की।

इस आतंकी हमले में एक पुलिस कर्मी शहीद हो गया और सीआरपीएफ का एक जवान घायल हो गया। इलाके में हालात को नियंत्रित करने के लिए सैन्य को भेजा गया है। जम्मू कश्मीर पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि क्षेत्र की घेराबंदी की जा रही है।  कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट करके घटना की जानकारी दी। ट्वीट में बताया गया है कि आतंकियों ने पुलवामा के पिंगलाना में पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त पार्टी पर हमला किया।

गौरतलब है कि इस हमले से कुछ घंटे पहले ही जम्मू कश्मीर के शोपियां में लश्कर तैयबा से संबंध रखने वाले एक आतंकी को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था। इस आतंकी की पहचान नसीर अहमद भट के रूप में हुई थी। बताया जाता है कि हाल ही में एक एनकाउंटर के दौरान वह बचकर भागने में कामयाब रहा था। कश्मीर के एडीजीपी विजय कुमार ने बताया कि वह कई आतंकी वारदातों में शामिल रहा था।

राष्ट्रीय

इन राज्यों में बारिश होने के असार, कई ने जारी किया येलो अलर्ट, पढ़े पूरी ख़बर

अक्टूबर माह शुरू हो गया है, लेकिन देश के कई राज्यों में मानसून अभी भी सक्रिय है। दरअसल सुपर चक्रवात नोरु के चलते बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने साइक्लोन सर्कुलेशन के कारण देश से दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी में देरी होना तय है। इससे मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में 5 अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबित आज यानी 2 अक्टूबर को बिहार, झारखंड ओडिशा सहित 17 राज्यों में बारिश की संभावना है। IMD ने इन राज्यों में येलो अलर्ट जारी किया है।

इन राज्यों में आज येलो अलर्ट, तेज बारिश के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक, बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, गोवा व महाराष्ट्र के कुछ हिस्से, वहीं दक्षिण भारत के तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक में आज गरज- चमक और तेज हवा के साथ हल्की मध्यम बारिश हो सकती है। कुछ राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

क्यों हो रही है मानसून में देरी?

मानसून के अक्टूबर माह की शुरुआत में भी सक्रिय रहने के पीछे मौसमी वजह है। मौसम विभाग के अनुसार सुपर चक्रवात ‘नोरु‘ के चलते बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती परिसंचरण के कारण देश से दक्षिण.पश्चिम मानसून की वापसी में देरी होना तय है। मानसून में देरी के कारण यह अभी और सक्रिय रहेगा। इस वजह से मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में पांच अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है।

13 अक्टूबर के बाद होगी मानसून की वापसी

मौसम विभाग के महानिदेशक ने कहा कि मानसून की वापसी 20 सितंबर से शुरू हो जाती है, लेकिन उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के ऊपर मौजूद मौसमी प्रणाली के कारण यह इस बार 13 अक्टूबर तक रुकेगा। यानी मानसून की वापसी 13 अक्टूबर के बाद होगी। उन्होंने आगे कहा कि मध्य प्रदेश,उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में 5 अक्टूबर से बारिश होने की संभावना है।
राष्ट्रीय

पीएम मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी 153वीं जयंती पर किया याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को राजघाट पहुंचकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी 153वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके अलावा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला समेत कई राजनेताओं ने राजघाट पहुंचकर गांधी जी को याद किया। संयुक्त राष्ट्र ने भी बापू को याद कर अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस पर दुनिया को संदेश दिया। इस मौके पर पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लोगों से गांधीजी को श्रद्धांजलि के रूप में खादी और हस्तशिल्प उत्पादों को खरीदने का आग्रह किया। हर साल 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती के रूप में मनाई जाती है, जिन्होंने अपना जीवन स्वतंत्रता के लिए भारत के संघर्ष को समर्पित कर दिया। अहिंसा के उपदेशक (अहिंसा), गांधी के जन्मदिन को अहिंसा के अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप में भी मनाया जाता है, जिसे 2007 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा घोषित किया गया था। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा, “गांधी जयंती पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि। यह गांधी जयंती और भी खास है क्योंकि भारत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। हो सकता है (हम) हमेशा बापू के आदर्शों पर खरा उतरें … ” उन्होंने लोगों से गांधी को श्रद्धांजलि के रूप में खादी और हस्तशिल्प उत्पादों को खरीदने का भी आग्रह किया। मोदी को श्रद्धांजलि देने दिल्ली के राजघाट भी पहुंचे। राष्ट्रपति का देश के नाम संदेश राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गांधीजी को श्रद्धांजलि दी और कहा कि यह सभी के लिए शांति, समानता और सांप्रदायिक सद्भाव के मूल्यों के लिए खुद को फिर से समर्पित करने का अवसर है। उन्होंने राष्ट्र के नाम एक संदेश में कहा, “महात्मा गांधी की 153वीं जयंती के अवसर पर मैं सभी देशवासियों की ओर से राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं।” राष्ट्रपति ने कहा, “गांधी जयंती हम सभी के लिए उनके प्रेरक जीवन – शांति, समानता और सांप्रदायिक सद्भाव के मूल्यों के लिए खुद को फिर से समर्पित करने का अवसर है।” सोनिया गांधी समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि कांग्रेस (अंतरिम) बॉस सोनिया गांधी और वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे उन नेताओं में शामिल थे, जिन्होंने राजघाट पहुंचकर गांधीजी को पुष्पांजलि अर्पित की। गांधीजी की साल 1948 में हत्या कर दी गई थी। गांधी को 30 जनवरी, 1948 को नाथूराम विनायक गोडसे ने गोली मारी थी। संयुक्त राष्ट्र ने भी किया याद संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने एक ट्वीट में अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस की याद दिलाई और गांधी की शिक्षाओं को याद किया। उन्होंने कहा, “अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस पर, हम महात्मा गांधी के जन्मदिन और शांति, सम्मान और सभी के द्वारा साझा की जाने वाली आवश्यक गरिमा के मूल्यों का जश्न मनाते हैं। हम इन मूल्यों को अपनाने और संस्कृतियों में काम करके आज की चुनौतियों को हरा सकते हैं।”
राष्ट्रीय

गाजियाबाद के घंटाघर स्थित रामलीला मैदान में हदसा, दो बच्चे समेत चार लोग घायल

गाजियाबाद के घंटाघर स्थित रामलीला मैदान में देर रात को झूला टूटने से दो बच्चे समेत चार लोग घायल हो गए है। हादसा होते ही मेले में भगदड़ मच गई। डॉ एसपी सिंह की निगरानी में तीनों का इलाज चल रहा है। रामलीला मैदान में भगदड़ मच गई। आनन-फानन में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायलों को एमएमजी अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां चिकित्सकों ने घायलों का उपचार कर छुट्टी दे दी है।

खबरों की मानें तो सुलामल रामलीला कमेटी द्वारा आयोजित रामलीला के दौरान रात में झूले का एक कप टूट कर नीचे गिर पड़ा। इस कप में एक ही परिवार के चार सदस्य सवार थे चारों को गंभीर चोट आई और झूला टूटने के बाद रामलीला मैदान में अफरा तफरी का माहौल बन गया। समिति के सदस्यों ने तुरंत पुलिस को खबर दी।

इसके बाद पुलिस की टीम ने घायलों को एमएमजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर एसपी सिंह की देखरेख में घायलों का इलाज किया गया। बताया जा रहा है कि घायलों में गिरधरपुर बिसरख की रहने वाली निशा पत्नी अवनीश और उनकी बेटी आठ वर्षीय अवनी शामिल है।

 

राष्ट्रीय

जाने 5G लॉन्च पर बोले अपने इस सपने को ले कर क्या बोले पीएम मोदी

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारत में 5G इंटरनेट सेवा का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि यह डिजिटल इंडिया और आत्मानिर्भर भारत की दृष्टि में एक बड़ा कदम है। पीएम मोदी ने कहा, “कई लोगों ने मेरे आत्मानिर्भर भारत के सपने का मजाक उड़ाया… लोग सोचते थे कि तकनीक गरीबों के लिए नहीं है। लेकिन मुझे विश्वास था कि तकनीक हर घर तक पहुंच सकती है।” डिजिटल इंडिया के 4 स्तंभों के बारे में बात करते हुए, पीएम मोदी ने कहा, “हमने डिजिटल डिवाइस की कीमत, कनेक्टिविटी, डेटा की कीमत और डिजिटल के विजन पर जोर दिया।”

देश के 13 शहरों में 5 जी सेवा का शुभारंभ करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “आज भारत की 21वीं सदी के लिए एक ऐतिहासिक दिन है क्योंकि 5G तकनीक दूरसंचार क्षेत्र में क्रांति लाएगी। यह डिजिटल इंडिया की सफलता है। यह देखकर खुशी हुई कि 5जी के लॉन्च के ऐतिहासिक कार्यक्रम में गांव शामिल हो सकते हैं।”

हर गरीब तक मोबाइल फोन की पहुंच
पीएम मोदी ने कहा कि भारत न केवल प्रौद्योगिकी का उपभोक्ता बना रहेगा बल्कि प्रौद्योगिकी के विकास में एक प्रमुख और वायरलेस प्रौद्योगिकी के डिजाइन में सक्रिय भूमिका निभाएगा। भारत मोबाइल फोन के निर्माण में दूसरे नंबर पर है और भारत मोबाइल फोन का निर्यात भी कर रहा है, प्रधान मंत्री ने कहा कि इन सभी प्रयासों ने भारत में मोबाइल फोन को सस्ता बना दिया है।

आम बात हो गई डिजिटल पेमेंट
पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने एक वीडियो देखा जिसमें एक भिखारी भी डिजिटल भुगतान ले रहा था। उन्होंने बताया कि कैसे छोटे व्यापारी भी अब डिजिटल रूप से लेन-देन कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि शहरी इलाकों की तुलना में गांवों में इंटरनेट यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

2जी से 5जी का सफर
पीएम मोदी ने कहा कि 2014 में, भारत में केवल दो मोबाइल निर्माण इकाइयां थीं। यह संख्या अब 200 को पार कर गई है। भारत के आत्मनिर्भर होने से डेटा की लागत भी कम हो गई है। 2014 में 1GB डेटा की कीमत ₹300 थी लेकिन अब यह ₹10 हो गई है। पीएम मोदी ने कहा, “इंटरनेट उपयोगकर्ता अब प्रति माह 14GB की खपत करते हैं। 2014 में इसकी कीमत ₹4,200 प्रति माह थी। लेकिन अब इसकी कीमत ₹125 से ₹150 के बीच है।”