राष्ट्रीय

देश में आज कोरोना के मामलों में मामूली गिरावट, 24 घंटों में इतने केस आए सामने

देश में जानलेवा कोरोना वायरस महामारी के मामलों में आज मामूली गिरावट दर्ज की गई है. देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 6 हजार 396 नए केस सामने आए हैं और 201 लोगों की मौत हो गई. कल 6 हजार 561 मामले और 142 मौतें दर्ज की गई थीं. यानी कल की तुलना में आज मामले घटे हैं. जानिए देश में कोरोना की ताजा स्थिति क्या है.

एक्टिव केस घटकर 85 हजार 680 हुए

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, कल देश में 13 हजार 450 लोग ठीक हुए, जिसके बाद अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 69 हजार 897 हो गई है. वहीं, इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5 लाख 14 हजार 589 हो गई है. आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 4 करोड़ 23 लाख 67 हजार 70 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

महाराष्ट्र में 467 नये मामले, 12 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 12 लोगों की मौत हुई है जबकि संक्रमण के 467 नये मामले आए हैं. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, आज आए संक्रमण के नये मामलों में से 243 मामले ओमिक्रोन स्वरूप के हैं. गौरतलब है कि बुधवार को महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण से किसी की मौत नहीं हुई थी.

बुलेटिन के अनुसार, महाराष्ट्र में अभी तक कुल 78,67,391 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने और संक्रमण से 1,43,718 लोगों की मौत होने की पुष्टि हुई है. बुधवार को राज्य में संक्रमण के 544 नये मामले आए थे, लेकिन कोविड से किसी की मौत नहीं हुई थी. राज्य में पिछली बार एक अप्रैल, 2020 को कोविड से किसी मरीज की मौत नहीं हुई थी.

अबतक करीब 178 करोड़ खुराक दी गईं

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों (Corona Vaccine) की करीब 178 करोड़ से खुराक दी जा चुकी हैं. कल 24 लाख 84 हजार 412 डोज़ दी गईं, जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 178 करोड़ 29 लाख 13 हजार 60 डोज़ दी जा चुकी हैं. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ज्यादा आयु वाले अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को 2 करोड़ से ज्यादा (2,03,69,898) एहतियाती टीके लगाए गए हैं. देश में कोविड रोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ और पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया. वहीं, कोरोना योद्धाओं के लिए टीकाकरण अभियान दो फरवरी से शुरू हुआ था.